Breaking News
Home / Interesting / जब राहुल गाँधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बताया ‘शेर का बच्चा’ तो लोगों ने कहा कि “इसी वजह से…”

जब राहुल गाँधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बताया ‘शेर का बच्चा’ तो लोगों ने कहा कि “इसी वजह से…”

राहुल गाँधी कांग्रेस के अध्यक्ष तो बना दिए गए हैं लेकिन फिर भी उनके विश्वास करने वालों की संख्या बहुत कम है. उनपर बहुत कम लोग ही यह भरोसा जताते हैं कि वो अपनी पार्टी को नई दिशा दे सकते हैं क्योंकि उन्हें खुद ही पता नहीं है कि उनको करना क्या है. उनकी फिसलती जुबान के बारे में तो आप जानते ही होंगे. अगर नहीं जानते तो सोशल साइट्स पर देख लीजिए उनकी कई स्पीच पड़ी हुई हैं जिन्हें देखकर आपको यकीन हो जाएगा कि राहुल गांधी रट्टू तोते की तरह बिना सोचे समझे कुछ भी बोल देते हैं. वो संसद में सो भी जाते हैं लेकिन फिर भी कांग्रेस पार्टी को उन्हें ही हर मामले में आगे करना पड़ता है. हालांकि कांग्रेस में भी अच्छे नेताओं की कमी नहीं है लेकिन जबतक राहुल गांधी को आगे किया जाएगा शायद ही कांग्रेस का कुछ भला हो सके.

अब आप 29 अप्रैल को ही ले लीजिये इस दिन नवभारत टाइम्स के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने दिल्ली के रामलीला मैदान में जन आक्रोश रैली की थी, जहाँ उन्होंने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाने के चक्कर में कुछ ऐसा कह दिया है जिसकी वजह से राहुल गाँधी का फिर से जमकर मज़ाक उड़ रहा है.

जी हाँ दरअसल राहुल गाँधी ने अपने कार्यकर्ताओं को लेकर कहा था कि ‘कांग्रेसी कार्यकर्ता शेर का बच्चा है.’ आपको बता दें कि राहुल गाँधी का बस इतना कहना ही था कि जिसके बाद उनका जिस तरह सोशल मीडिया पर जमकर मज़ाक उड़ा है उसके बारे में राहुल गाँधी ने बोलने से पहले कभी सोचा भी नहीं होगा कि लोग उनकी इस तरह से धज्जियाँ उड़ायेंगे.  यकीन मानिये जब आप लोगों द्वारा उड़ाए गए मज़ाक को पढेंगे तो आप भी अपनी हंसी नहीं रोक पाएंगे. हितेश नाम के एक यूजर लिखते हैं कि नेहरु शेर थे और कांग्रेसी शेर के बच्चे हैं !’ राहुल जी लगता है कि शायद इसी वजह से कांग्रेस विलुप्त की कगार पर है!

गौरव प्रधान नाम के एक यूजर लिखते हैं कि इस बयान के बाद शेर, शेरनी को मनाते मनाते थक गया कि “डार्लिंग वो झूठ बोल रहा है”

 

यह तो सबसे मज़ेदार था कि “कह के पेहनों” नाम के यूजर एक फोटो पोस्ट करते हुए लिखते हैं कि शेर और शेरनी एक दूसरे से लड़ते हुए जब उन्हें यह पता चला कि उनके बच्चे कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं ! 

“द लाइंग लामा” नाम के यूजर अपने मज़ाकिया अंदाज़ में लिखते हैं कि ‘समझ में नहीं आ रहा है कि जन आक्रोश रैली अप्रैल में क्यों हो रही हैं, जनवरी में होनी चाहिए थी…’

“कह के पहनों” नाम के यूजर एक और फोटो पोस्ट करते हुए लिखते हैं कि तू कब से कांग्रेस का कार्यकर्ता बन गया??? चल दफ़ा हो जा मेरी नज़रों से दूर….

अमित चतुर्वेदी नाम के यूज़र एक तस्वीर को पोस्ट करते है, जिसमें आप देखेंगे कि एक शेरनी शेर पर चिल्ला रही है और शेर शर्मिंदा है…अमित इस तस्वीर को पोस्ट करते हुए लिखते हैं कि जब शेरनी को पता चला कि सारे कांग्रेसी ” शेर के बच्चे हैं…”